व्यायाम का लाभ और महत्व | Vyayam Ka Mahatva Patra In Hindi

0
1131

नमस्कार दोस्तों आज के इस लेख vyayam का लाभ और महत्व हिंदी में और व्यायाम करने के तरीके तो आज के लेख में सभी जानकरी देंगे तो लेख को पूरा पढ़े। 

vyayam meaning – व्यायाम वो प्रक्रिया है जिसमे व्यक्ति अपने शरीर को स्वस्थ रखने के साथ साथ व्यक्ति के समग्र स्वास्थ्य को भी अच्छा बनाता है व्यायाम कई सारे कारणो के लिए किया जाता है  व्यायाम मानव जीवन में बहुत ही लाभ दायक है रोजाना vyayam ke naam करने से हमारे चेहरे का निखार बहुत ही सुन्दर बन जाता है ,और तो और व्यायाम करने से रोग के सामने बहुत ही लाभ होता है

Table of Contents

व्यायाम और कसरत करने के तरीके | work out – ksrt

ksrt – हमारे शरीर को बहुत ही चुस्त और तंदुरुस्त बनाये रखने के लिए हमें रोजाना व्यायाम करना बहुत ही  फायदे मंद साबित हो सकता है। हररोज व्यायाम करने से आपके शरीर का स्टेमिना बढ़ता है vyayamam और तो और वजन भी कम होता है साथ ही आप कई तरह की बीमारियों से बेहद आसानी से बच जाते हैं।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि व्यायाम करने से सिर्फ आपकी सेहत ही नहीं, स्किन को भी कई सारे लाभ होते हैं। इसलिए नेचुरली ग्लोइंग और बेदाग त्वचा पाने के लिए आप व्यायाम का सहारा ले सकते हैं। vyayam कई सारे कारणों के लिए किया जाता है ,जैसेकी मासपेशियो को मजबूत बनाना, ह्दय प्रणाली को शुद्ध रखना ,एथलेटिक कौशल बढ़ाना ,वजन काम करना

या फिर सिर्फ आनंद के लिए व्यायाम का महत्व और लाभ कसरत करने के तरीके – Vyayam रोजाना शारीरिक व्यायाम प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ा देता है और तो और हमारी नींद को भी काम करता है ,इसकी वजह से हमको सुबह उठने में कोय परेशानी नहीं होती है ,ह्दय रोग रक्तवाहिका रोग  वगेरे  जैसे रोगो के सामने रक्षा करता है 

exercise meaning – व्यायाम हमारे शरीर के सम्पूर्ण मानसिक स्वस्थ को सुधार ने में मदद करता है  और तो और तनाव को भी रोकने में भी हमको मदद करता है  बचपन का मोटापा एक बढ़ती हुई वैश्विक चिंता का विषय है और शारीरिक व्यायाम से बचपन के मोटापे के प्रभाव को कम करने में मदद मिल सकती है।

व्यायाम करने के तरीके | vyayam ka mahatva

रोजाना व्यायम करने से हमारे शरीर की मजबूत बनी रहती है और हमारे शरीर का खून भी बिलकुल साफ़ रहता है  जो की आपके स्वास्थ्य की पूंजी है.और कई आसन भी हमारे शरीर के लिए फायदे मंद है 

नौकासन

नौकासन यह आसन है जिसको अपनी पीढ़ के बल पर लेट कर किया जाता है इस आसन को करने का तरीका नौका जैसा है| यह शुरुआत में आपको थोड़ा कठिन जरूर लगेगा लेकिन यह कमर दर्द के लिए बहुत ही फायदेमंद और अच्छा आसन है. जब आप नौकासन आसान को करना चालू करते हो तब आपको इस आसन में अपना संतुलन बनाने में दिकत होगी ,लेकिन इस आसान को करते रहेंगे तो आदत हो जायेजी

व्यायाम का महत्व और लाभ , कसरत करने के तरीके | Vyayam

नौकासन आसन को रोजाना करने से हमारे सम्पूर्ण तनाव दूर करने में बहुत ही फायदे मंद है चिंता और तनाव शरीर और दिमाग दोनों के लिए ही बहुत हानिकारक है इसिलए आप इस आसन को करके तनाव से मुक्त हो सकते है

मयूरासन

मयूरासन आसन हमारे शरीर के नर्वस सिस्टम को सही रखने का काम करता है  क्यूंकि इस सिस्टम में ब्रेन भी शामिल होता है| लेकिन यह आसन बहुत ही अच्छे से और धीरे से करना चाहिए क्यूंकि यदि कही भी गलती की तो मानसिक रूप से बीमार भी पड सकते है| लेकिन यदि यह आसन सही तरिके से करने लगे तो आप बुद्धि के मामले में कही पीछे नहीं रहेंगे.

इसके अलावा इस आसन से दर्द और अनिद्रा की बीमारी भी दूर होती है यह आसान देखने और करने दोनों में ही कठिन है लेकिन जब आप प्रत्येक दिन करेंगे तो यह आपको बहुत ही आसान लगने लगेगा अब मै आपको मयूरासन आसन को करने का तरीका बताने जा रहा हूँ.

मरिचियासन

आज कल घंटो बैठकर काम करने से कमर दर्द होना एक मामूली बीमारी मानी जाने लगी है| लेकिन आपको पता है की कमर दर्द होना बहुत भयंकर बीमारी है अगर यह कमर दर्द की बीमारी लग जाये तो इससे पीछा छुड़ाना बहुत मुश्किल हो जाता है और जब कमर दर्द होता है तो उसे सहन कर पाना भी बहुत मुश्किल होता है

कमर दर्द के होने के कारण चल फिर नहीं पाते है मरिचियासन आसन न तो सिर्फ कमर दर्द को दूर करता है बल्कि शरीर की सभी बीमारियों को दूर करने में फायदेमंद है इसे नियमित करने से हमारी रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है| इसे करने से कमर दर्द जल्द ही ख़त्म होकर आपसे दूर हो जायगा

व्यायाम के लाभ और व्यायाम किया जाता हे 

हम हमारे शरीर को स्वस्थ और संतुलित रखने के लिए रोजाना आहार लेते है। हम खाने के मामले में तो बहुत ही सावधान रहते है ,और ठीक उसी तरह हमें हमारे शरीर को व्यायाम की भी नियमित मिलना चाहिए व्यायाम शरीर को गठीला बनाने में महत्वपूर्ण योगदान देने के साथ-साथ स्वस्थ रखने में भी सहायक होता है

बौद्धिक स्वास्थ्य को बढ़ावा मिलना

ksrt रोजाना सुबह 5 बजे व्यायम करने से आपके दिमाग के स्वास्थ्य पर बहुत ही अच्छा प्रभाव पड़ता है और हमारी याद शक्ति भी तेज करता है यह आपके मूड को भी ठीक करता है। vyayam नियमित करने से नई तन्त्रिका और कोशिकोओं का  जन्म होता है जिससे अल्ज़ीमर्सके साथ साथ पार्किन्सन्स जैसी बीमारियाँ दूर रहती है व्यायाम से जीवन के उत्तरार्ध में विकसित होने वाले पागलपन जैसे लक्षणों से भी छुटकारा मिलता है

सेक्स का रोचक होना

ksrt हररोज व्यायम करने से हमारे शरीर में ऊर्जा का संचार होता है। और इसकी वजह से आपको आपके जीवन साथी को आप सुन्दर और अच्छे लगते हो इस सब के साथ आप अपने साथी के साथ बिस्तर में बेहतर वक्त बिता पायेंगे। नियमित व्यायाम से महिलाओं में उत्तेजना जागृत होती है और पुरुषों में सेक्स सम्बन्धी समस्यायों में कमी आती है।

चिन्ताओं से दूर होना

व्यायाम के जरिये हमारे शरीर को शांति का अहसास होता हे और तो और उसकी वजह से हमें हमारी चिंताओ और अनेक परेशानी से रोजाना के लिए छुटकारा मिल सकता है

इसे भी पढ़े -: दाद को जड़ से खत्म करने की दवा 

व्यायाम का महत्व | Importance of exercise

व्यायाम का लाभ और महत्व हिंदी में - Vyayam Ka Mahatva Patra In Hindi

yaayum का महत्व हमारे जीवन के लिए सबसे अधिक मान जाता है  क्योकि व्यायम हमारे शरीर के लिए स्वास्थ्य  ही धन मन जाता है ,और हमारे  धार्मिक ग्रंथो में भी व्यायम का उल्लेख किया गया है की धन चला जाता हे तो वापस नहीं लोटता है।जीवन में मनुष्य धन के बिना बिलकुल नहीं रह सकता , पर जीवन में मनुष्य व्यायम , और स्वास्थ्य बिना अधूरा है जीवन में इंसान शरीअर और मनको अच्छा करने के लिए योग और व्यायम की बहुत ही जरूरत होती है।

दिमाग स्वस्थ रहता है

प्रतिदिन करीबन 30-35 मिनट तक व्यायाम करने से मनुष्य के दिमाग का स्वास्थ्य बहोत अच्छा रहता है। व्यायाम करने से मनुष्य के मूड  अच्छा रहता है exercise in hindi बॉडी में नई तंत्रिका और कोशिकाओं का निर्माण करता है जिससे अल्जाइमर और पार्किसंस जैसे रोगो को रोकने की कोशिश करता है। 

ह्रदय स्वस्थ रहता है

व्यायाम l.d को कम करने में मदद करता है और व्यायाम h.d.l को बढ़ाता है और रक्तचाप को कम करता है। यह मनुष्य को हृदय से होने वाली बीमारियो को कम करने में सहायता करता है यह मनुष्य के हृदय की मांसपेशियो को सख्त और मजबूत बनाता है। व्यायाम एक स्वस्थ आहार के साथ व्यायाम करने से हृदय की बीमारिया होने से कम करने में बहोत सहायता करता है

व्यायाम डायबिटीज को कम करता है

ksrt प्रतिदिन  व्यायाम करने से रक्त शर्करा के बढ़ते स्तर को कंट्रोल करता है। जो मनुष्य की बॉडी में टाइप 2 की डायबिटीज को शुरू नहीं होने देता vyayam करने से मोटापे का शिकार भी नहीं बनने देता और व्यायाम टाइप 2 डायबिटीज जैसे जोखिम बीमारियों को रोकने में सहायता करता है

व्यायाम प्रतिरक्षा प्रणाली बढ़ाता है

benefits of exercise in hindi करने से बॉडी में ऑक्सीजन के लेवल के स्तर को बनाय रखता है।व्यायाम आपकी बॉडी की क्षमता को ज्यादा मजबूत करता है व्यायाम करने से बॉडी में बेक्टेरिया और वायरस से लड़ने वाली शक्ति को बढ़ाता है जिससे कई बीमारियों से बचने में मदद करता है।

इसे भी पढ़े -: सफ़ेद मूसली के फायदे हिंदी

तनाव कम रहता है

कई लोग मानसिक तनाव से जूझते है वही लोगो को हररोज dand baithak करना चाहिए। तनाव से जूझने वाले व्यक्ति को कई सारि बीमारिया होती है इस कारण उन लोगो को व्यायाम का सहारा लेना चाहिए। 

वजन बढ़ने से रोकता है

कई लोग मोटापे का शिकार बनते है उन लोगो को व्यायाम अवश्य करना चाहिए। आमतौर पर बॉडी में ज्यादा वेट होने से बीमारियो का शिकार बन जाते है। आमतौर पर व्यायाम करने वाले व्यक्ति का वेट बढ़ने से रोकता है और बॉडी को स्वस्थ अवं फिट रहता है। 

ऊर्जा के लेवल को बढ़ाता है

प्रतिदिन dand baithak benefits करने से मांसपेशियों को ऑक्सीजन और पोषक तत्व पूरी मात्रा में मिल जाता है इसके साथ व्यक्ति के शरीर की हड्डीयो को भी मजबूत और सख्त करता है कई लोग अक्सर थका हुवा शरीर को महसूस करता है। उन लोगो को व्यायाम करना आवश्यक है व्यायाम करने से हमेंशा शरीर में ऊर्जा रहती है। 

रक्त प्रवाह को बेहतर बनाता है

ksrt मनुष्य  के शरीर में रोगी की बॉडी में व्यक्ति के रक्त प्रवाह ठीक vyayam जरुरी है की आप अपने बॉडी में रक्त का प्रवाह अच्छी रखने में बहोत सहायता करता है। 

इसे भी पढ़े -: जॉगिंग के फायदे और नुकसान 

व्यायाम के प्रकार | types of exercise

व्यायाम का लाभ और महत्व हिंदी में - Vyayam Ka Mahatva Patra In Hindi

Vyayam के प्रकार के बारे में जानते हे। तो आप सभी जानते होंगे की व्यायाम करना कितना शरीर के लिए कितना अच्छा होता हे। अगर आप रोज़ मॉर्निग व्यायाम करते हो तो आपकी बॉडी और माइंड फिट रहते हैं। लेकिन आप जानते हे की व्यायाम ( excercise ) कई तैराकी होती हे। जो आप को इस लेख में मिलेगी। आज आपको व्यायाम के प्रकार के बारे में बताने वाले हे। तो जानते की वयायाम के किनते प्रकार हे। 

  1. समतानी व्यायाम 
  2. सममितीय व्यायाम
  3. चलना
  4. खेलकूद
  5. योग

समतानी व्यायाम

समतानी व्यायाम – अगर आप व्यायाम करते हे। तो आपकी मसल्स के तंतुओं की लम्बाई कम ज्यादा होती रहती हे। और आपके शरीर में तनाव बना रहेता हे। मसल्स और बॉडी  बनी रहती हे। इस व्यायाम को करने के बाद आपके शरीर में हलचल होती हे। व्यायाम के इस प्रकार में दौड़ना ,चलना , साइकिल, तैरना ,फुटबॉल ,और टेनिस जैसे खेल इस व्यायाम में शामिल होते हे। 

सममितीय व्यायाम

सममितीय व्यायाम – अगर आप इस व्यायाम को करते हे तो आपका बल और आकर जल्दी बढ़ता हे इस व्यायाम के प्रकार में आपके हाथो से आगे पीछे या ऊपर धकेला जाता हे। ऐसे में ज्यादा हलचल हुए बिना ही मसल्स को काम करना पड़ता है। जिम में मशीनों पर की जाने वाली एक्सरसाइज आइसोमेट्रिक एक्सरसाइज में आती है।

इसे भी पढ़े – : घर पर बाइसेप्स कैसे बनाये हिंदी में

चलना

चलना – चलना इस व्यायाम के प्रकार करना बोहुति आसान हे। इस Vyayam को कभी कर सकता हे। इस व्यायाम से आपको शरीर में स्वस्थ रहता है और शरीर एक्टिव और एनर्जेटिक बनता है।

खेलकूद

खेलकूद – इस व्यायाम को करने में मजा भी आता हे। और आप आसानी से कर सकते हे और इस व्यायाम को करने से आपके शरीर को फिट और मजबूत रखता हे। और भारतीय खेल आमरे शरीर के लिए बोहुति फायदे मंद होते हे। 

योग

योग – इस व्यायाम में आपको योग से फायदे मिलेंगे जोकि आपके शरीर के लिए फयदे मंद होता। शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाये रखने का एक सम्पूर्ण व्यायाम है जिसमें आसन, मुद्राएं और बंध के जरिए व्यायाम किया जाता है।

व्यायाम का फायदे के वीडियो | Vyayam Ka Fayde Ke Video

FAQ

Q : व्यायाम कब और कैसे करना चाहिए?

A : व्यायाम को शाम – और सुबह दो टाइम किया जाता हे।
अगर आप सूरज निकलने से पहले या जल्दी उठकर Vyayam करना बोहुति अच्छा होता हे। और आप सुबह ८:०० से १० के बीच व्यायाम करना ज्यादा फायदे मंद होता हे।  

Q : व्यायाम करने से शरीर पर क्या प्रभाव पड़ता है?

A : व्यायाम करने से आपके शरीर के लिए फायदे मंद होता हे। अगर आप रोज़ सुबह उठकर Vyayam करते हो। नम और तनाव दोनों एक मात्रा में रहते हे। इस आपको फायदा मिलता हे। 

Q : व्यायाम के क्या नियम है?

A : व्यायाम के नियम का पालन करे इस बातो का रखे ध्यान  
अगर आप रोज़ व्यायाम करते हे तो लाभ तभी हे जो इसका नियमित रूप से किया जाये। 
अगर आप व्यायाम जिम में जाके करते हो सही पोजीशन का होना जरुरी हे। 
वर्कआउट में सभी एक्सरसाइज पहले सही तरह से सीख लें।
एक हफ्ते में तीन दिन वेट ट्रेनिंग और तीन दिन कड़ियों करना सही रहता हे। 

Q : व्यायाम कब नहीं करना चाहिए?

A : रात को एक्सरसाइज ना करें, एक्सरसाइज के बाद पूरा आराम करने की बजाय थोड़ा एक्टिव रहना जरूरी है। रात में एक्सरसाइज करने से कोई फायदा नहीं होता है। खाने के तुरंत बाद व्यायाम न करें। यह आपकी पाचन प्रक्रिया को बाधित करता है और आंतों को भी प्रभावित कर सकता है।

Q : व्यायाम के बाद मुझे कितने समय तक स्नान करना चाहिए?

A : इस सब में कम से कम 30 मिनट का समय लगता है। यानी आप आधे घंटे के बाद नहा सकते हैं।

Q : कितने घंटे व्यायाम करना चाहिए?

A : औसतन, किसी को भी, चाहे वह पुरुष हो या महिला, एक घंटे तक व्यायाम करना चाहिए। किसी भी प्रकार का व्यायाम, एर रोबिक या कार्डियो उम्र और वजन के अनुसार निर्धारित किया जाता है।

Disclaimer : तो  फ़्रेन्ड उम्मीद करता हु की हमारा यह लेख व्यायाम का लाभ और महत्व हिंदी में आप को जरूर पसंद आया होगा तो दोस्त इसी तरह की जानकारी पाने के लिए हमरे साथ जुड़े रहिये और आपके मनमे कोई भी प्रश्न हो तो हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताये

Rating: 5 out of 5.