Advertisements

शिलाजीत क्‍या है | शिलाजीत के फायदे | Shilajit Khane Ke Fayde In Hindi

shilajit ke fayde: हिमालयी क्षेत्र में पाया जाने वाला एक खास खनिज पदार्थ है। यह औषधीय गुणों से भरपूर माना जाता है और कई शारीरिक समस्या ओं से बचाव व उनके असर को कम करने में मदद कर सकता है। यह माना जाता है कि शिलाजीत के सेवन से मर्दानगी में सुधार हो सकता है।  स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम silajit ke fayde और shilajit ke upyog और शिलाजीत के नुकसान में बताने वाले है। 

Advertisements

शिलाजीत क्‍या है | What Is Shilajit In Hindi

Table of Contents

Shilajit Khane Ke Fayde In Hindi
Shilajit Khane Ke Fayde In Hindi

shilajit एक प्राकृतिक खनिज पदार्थ है। इसका निर्माण प्राकृतिक रूप से अपने आप ही होता है। लेकिन इसे बनाने में हजारों साल लगते हैं। शोधकर्ताओं का मानना ​​है। कि यह यूफोरबिया रिलियाना और ट्रिफ़ोलिया रिपन्स जैसे पौधों की प्रजातियों के “अपघटन” के बाद बनाया गया था। इस आधार पर शिलाजीत को प्रकृति का एक अनमोल उत्पाद भी माना जाता है। यह चिपचिपा होता है और शुद्ध रूप में इसकी महक गौमूत्र की तरह होती है। 

शिलाजीत के 6 फायदे | 5 Shilajit Benefits Hindi Me

  1. दिमागी की शक्ति के लिए
  2. मूत्र संबंधी समस्याओं में फायदेमंद के लिए
  3. थकान को दूर करने के लिए
  4. दिल को स्वस्थ रखने के लिए 
  5. डायबिटीज में दिलाए राहत 

1. शिलाजीत दिमागी की शक्ति के लिए फायदेमंद | Shilajit beneficial for brain power

शिलाजीत में फुल्विक एसिड पाया जाता है। यह तत्व स्मृति को गति देने का काम कर सकता है। इस आधार पर यह कहना गलत नहीं होगा कि यह व्यक्ति की याद रखने की क्षमता को बढ़ाकर यह दिमागी शक्ति को बढ़ाने का काम कर सकता है।

Advertisements

2. मूत्र संबंधी समस्याओं में फायदेमंद के लिए | For beneficial in urinary problems

मूत्र संबंधी समस्याओं से निजात पाने के लिए भी शिलाजीत का प्रयोग लाभकारी माना जा सकता है। इसकी पुष्टि इंटरनेशनल जर्नल ऑफ आयुर्वेदा रिसर्च के एक शोध के जरिए होती है। एनसीबीआई की साइट पर पब्लिश इस शोध में जिक्र मिलता है। शिलाजीत में (प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने वाला) गुण पाया जाता है। इस गुण के कारण यह मूत्र संबंधी समस्याओं को दूर करने में सहायक हो सकता है। आयुर्वेद में भी मूत्र संबंधी समस्याओं के लिए शिलाजीत का प्रयोग किया जाता है।  

3. शिलाजीत थकान को दूर करने के लिए फायदेमंद है | Shilajit is beneficial to relieve fatigue

shilajeet khane Se थकान की समस्या से राहत दिलाना भी शामिल है। मोटापे से ग्रस्त व्यक्तियों में थकान होना आम माना जाता है। वहीं (shilajit ke fayde hindi) सेवन से मोटापे की इस समस्या पर काबू पाने में मदद मिल सकती है। ऐसे में मोटापे के कारण होने वाली थकान की समस्या से राहत दिलाने में भी शिलाजीत सहायक साबित हो सकता है

4. शिलाजीत दिल को स्वस्थ रखने के लिए फायदेमंद है | Shilajit is beneficial for keeping the heart healthy

shilajit ka upyog हाई बीपी को कम करने में मदद कर सकता है। एक ही समय में यह समग्र लिपिड प्रोफाइल को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है। इन दोनों कारणों को हृदय स्वास्थ्य के लिए हानिकारक माना जाता है। इसके अलावा शिलाजीत पर एक अन्य शोध से पता चला है कि शिलाजीत हृदय स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। इस आधार पर शिलाजीत को अन्य स्वास्थ्य समस्याओं के साथ-साथ हृदय के लिए भी उपयुक्त माना जा सकता है।

5 . शिलाजीत डायबिटीज में दिलाए राहत | Shilajit provides relief in diabetes

शिलाजीत का उपयोग मधुमेह को रोकने के लिए भी किया जा सकता है। शिलाजीत में मधुमेह विरोधी (रक्त शर्करा को कम करने) गुण होते हैं। यह संपत्ति कुछ हद तक उच्च रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित कर सकती है। इस आधार पर कहा जा सकता है कि shilajit ke lab मधुमेह की समस्या को नियंत्रित करने में कारगर हो सकते हैं।

Advertisements

इसे भी पढ़े : पनीर खाने के फायदे और नुकसान 

पतंजलि शिलाजीत के फायदे | Benefits of Patanjali Shilajit

  1. अल्जाइमर रोग के लिए
  2. अत्यंत थकावट में
  3. महिलाओं का स्वास्थ

1. शिलाजीत अल्जाइमर रोग के लिए फायदेमंद | Shilajit beneficial for Alzheimer’s disease

अल्जाइमर रोग एक प्रगतिशील मस्तिष्क विकार है जो स्मृति व्यवहार और सोचने की क्षमता के साथ समस्याओं का कारण बनता है। शिलाजीत में पाए जाने वाले कई यौगिक मस्तिष्क के कार्य के लिए सहायक हो सकते हैं। और अल्जाइमर के उपचार में भी मदद कर सकते हैं।

Advertisements

2. शिलाजीत अत्यंत थकावट में फायदेमंद | Shilajit beneficial in extreme tiredness

यह एस सिंड्रोम है जो थकान का कारण बनता है।। रात की अच्छी नींद के बाद भी आप दिन भर चिढ़ और थके महसूस कर करते हैं। shilajeet ke fayde शरीर में कोशिका कार्यों को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है यानी यह थकान को कम करता है और स्वाभाविक रूप से ऊर्जा के स्तर को बढ़ा सकता है।

3. शिलाजीत महिलाओं का स्वास्थ के लिए फायदेमंद | Shilajit beneficial for the health of women

शिलाजीत मासिक धर्म को नियमित करने और मासिक धर्म के दर्द और ऐंठन को कम करने के लिए महिला प्रजनन समारोह के स्तर को सामान्य करने में मदद करता है। चूंकि इसमें कायाकल्प गुण होते हैं।  इसलिए यह शरीर के ऊर्जा स्तर को बढ़ाने के पूरक के रूप में कार्य करता है। एक महिला की प्रजनन क्षमता use of shilajit करने की क्षमता है। शिलाजीत इस्तेमाल भारत में सदियों से जोड़ों और बांझ महिलाओं की मदद के लिए किया जाता रहा है।

इसे भी पढ़े : प्रेग्नेंट कैसे होते हैं | प्रेग्नेंट कितने दिन में होते हैं

शिलाजीत कैप्सूल के फायदे | Benefits of shilajit capsules

  1. पुरुष प्रजनन क्षमता और टेस्टोस्टेरोन को बढ़ाता है
  2. अल्जाइमर रोग को ठीक करता है
  3. अत्यधिक थकान को कम करता है
  4. महिलाओं के स्वास्थ्य को ठीक करता है
  5. उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को रोकता है
  6. एंटीऑक्सीडेंट ताकत बढ़ाता है

शिलाजीत का उपयोग | Use of shilajit | benefits of shilajeet in hindi 

Shilajit Khane Ke Fayde In Hindi
Shilajit Khane Ke Fayde In Hindi
  • इलाइची के दाने और शहद के साथ शिलाजीत पाउडर का सेवन किया जा सकता है।
  • शिलाजीत का सेवन घी या मक्खन के साथ भी किया जा सकता हैं।
  • शिलाजीत का सेवन दूध के साथ भी किया जा सकता है।
  • नारियल का तेल के साथ भी शिलाजीत का सेवन किया जा सकता है।

मात्रा में खाएं: बेहतर स्वास्थ्य के लिए रोजाना 300-500 मिलीग्राम शिलाजीत का इस्तेमाल किया जा सकता है। शिलाजीत की यह मात्रा प्रत्येक व्यक्ति की शारीरिक क्षमता के अनुसार कम या ज्यादा हो सकती है। आपका डॉक्टर आपको इस बारे में बेहतर बता सकता है। दूसरी ओर यदि कोई उठाना चाहता है तो डॉक्टर की सलाह भी ले सकता है।

इसे भी पढ़े : चीकू खाने के 10 फायदे और नुकसान 

शिलाजीत के नुकसान | Side Effects of Shilajit in Hindi

Shilajit का सेवन एक औषधि के रूप में ही किया जाता है। इसलिए जाने वाली औषधीय खुराक के कोई भी ज्ञात दुष्परिणाम नहीं होती है। हां कुछ परिसानी में shilajit se kya hota hai भी हो सकता हैं।  

  • शिलाजीत में रक्तचाप कम करने वाला प्रभाव पाया जाता है।
  • इसलिए रक्तचाप की दवा लेने वाले लोगों को इसे लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए।
  • यह रक्त शर्करा को कम करने में मदद करता है।
  • इसलिए मधुमेह की दवा के साथ उपयोग करने से पहले डॉक्टर से इसके बारे में पूछें।
  • यदि शिलाजीत को अशुद्ध रूप में सेवन किया जाता हैतो यह नशा भी पैदा कर सकता है। 
  • क्योंकि इसमें माइकोटॉक्सिन (कवक द्वारा उत्पन्न एक विष) और मुक्त कण होते हैं।
  • शिलाजीत का प्रभाव गर्म होता है जिसका अधिक मात्रा में सेवन करने पर सिरदर्द हो सकता है।

अब तक बहुत से लोगों ने शिलाजीत का इस्तेमाल केवल अपनी मर्दानगी बढ़ाने के लिए किया होगा लेकिन silajit ke fayde in hindi जानने के बाद अब शिलाजीत का इस्तेमाल कई स्वास्थ्य लाभों के लिए भी किया जा सकता है। हालांकि यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि यह कथित बीमारियों के लिए एक सटीक उपचार नहीं है। लेकिन बीमारी की स्थिति में उनकी स्थिति को रोकने या बढ़ाने में सहायक भूमिका निभा सकता है। इसके अलावा शिलाजीत को नुकसान नहीं पहुंचाने के लिए इसका उपयोग केवल चिकित्सीय सलाह पर करें। हेल्थ और वेलनेस से जुड़े ऐसे और आर्टिकल पढ़ने के लिए हमारी स्टाइलक्रॉस वेबसाइट को ऐसे ही विजिट करते रहें।

Shilajit Khane Ke Fayde Video

इसे भी पढ़े : शतावरी खाने के फायदे और नुकसान

FQA 

Q : पुरुष शिलाजीत का सेवन कैसे करें?

A : वहकि shilajit khane ka tarika यह हार्मोन बढ़ जाता है। इसलिए रात में सोने से पहले आप शिलाजीत का सेवन कर सकते है।

Q : पतंजलि शिलाजीत क्या है?

A : बता दें कि बाबा रामदेव की पतंजलि शिलाजीत के कैप्सूल बेचती है जिसमें (shilajit ke fayde in hindi) हैं जिन्हें सबसे अच्छा प्राकृतिक एंटी-एजिंग उत्पाद माना जाता है। इसका उपयोग शरीर के प्रतिरोध को बढ़ाने के लिए भी किया जाता है।

Q : शिलाजीत कब खाना चाहिए?

A : शिलाजीत को सुबह और शाम दूध और शहद के साथ लेने से शरीर बीमार नहीं होता है। मामूली संक्रमण उन्हें ऐसे लोगों से दूर रखता है। शारीरिक शक्ति के साथ-साथ मानसिक शक्ति बढ़ाने के लिए भी शिलाजीत का उपयोग किया जाता है।

Q : silajit khane से क्या नुकसान होता है?

A : गर्मी और एलर्जी के चलते त्वचा पर फोड़े-फुंसी रैशेज और इरिटेशन जैसी परेशानियां दिखना भी इंडियन वियाग्रा यानि शिलाजीत का साइड-इफेक्ट हो सकता है। शिलाजीत के सेवन से मतली बेचैनी या दिल की धड़कन बढ़ सकती है। बारबार पेशाब करने की इच्छा भी शिलाजीत के अत्यधिक सेवन का एक साइड-इफेक्ट हो सकता है।  

इसे भी पढ़े : जीभ के छाले मिटाने के उपाय