सफ़ेद मूसली के फायदे – Safed Musli Fayade In Hindi

0
423

नमस्कार दोस्तों आज के इस लेख safed musli के फायदे हिंदी में और मुसली के उपयोग कैसे करें तो आज के लेख में सभी जानकरी देंगे तो लेख को पूरा पढ़े। 

safed musli एक पौधे की जड़ हे और एक आयुर्वेदिक औषध हे जो सेक्स पावर को बढ़ाके मनुस्य के यौन संबधित स्‍वास्‍थ्‍य को सुधर के पावर फूल बनाता हे। जो इंसान को एक घोड़े जैसी ताकत देने का गुण रखता है मूसली का उपयोग ही सेक्स रिलेटेड प्रॉब्लम को सॉल्व करके सफेद मूसली को दूसरे नाम भी है जैसे की श्वेत मूसली ,इंडियन व्‍हाइट मूसली और इंडियन स्‍पाइडर प्‍लांट, के नामो से भी जानी जाती है।

मूसली का पौधा एक कांटेदार होता हे। इसका प्रयोग चिकित्सा और औषधीय दवाई यो की जगह उपयोग प्राचीन काल इस्तेमाल होता आया है।पौधे का इस्तेमाल औषधीय दवाई के लिए इसकी जड़ को निकल के होती है जो कि कामेस्या को बढ़ावा देने में मदद रूप होता है White Muesli के मुख्य उपयोगी गुण नपुंसकता को कम करना दूसरा यौन उत्‍तेजना की कमी को दूर करने के लिए उपयोग में लिया जाता हे ये दवाई को देसी वियाग्रा भी कहाजाता हे और सच में ही वायग्रा के उत्पादन के लिए भी किया जाता है।

और भी पढ़े : – BodyBuilding Tips Bicep In Hindi  

सफेद मूसली के पोषक तत्व  

  • प्रोटीन
  • कार्बोहायड्रेट
  • अल्कलॉइड 
  • सैपोनिन
  • कैल्सियम
  • मैग्नीसियम 
  • पोटैशियम
  • ग्लूकोस
  • सुक्रोज

सफेद मूसली का वैज्ञानिक नाम क्या है

safed musli का वैज्ञानिक नाम च्लोरोफ्य्तुम बोरिविलिअनुम है 

Benefits of white musli in arthritis and joint pain

जोड़ो और गठिया के रोगियों को सूजन और दर्द से राहत के लिए मूसली का उपयोग करने से फायदा हो सकता है। चुहों के ऊपर किए गए एक संशोधन में एनसीबीआई की एक वेबसाइट पर लिखा गया है। की मूसली में पाए जाने वाले जड़ों में सैपोनिन नाम का एक कंपाउंड मिलता हे। सैपोनिन तत्व में एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटी-अर्थराइटिस के ज्यादा गुण हैं।

जो सूजन को ठीक करने में मदद करके सूजन की वजह होने वाली तकलीफो से बचाने में बहुत ही फायदेमंद होता हैं। इसमें मिलने वाले एंटी-अर्थराइटिस के गुण जोड़ो और गठिया की समस्या में ज्यादा लाभदायक मानाजाता हे

और भी पढ़े : – Chest Workout For Men In Hindi 

तनाव में सफेद मूसली के फायदे 

safed musli benefits अपने अनोखे और बेहतर गुणो के कारण ही प्रचलित हे और तनाव को दूर करने के लिएभी Musli useful है जो मगज को ताजगी दे करके मन को प्रफुलित करने के प्राकृतिक गुण की अपनी अनोखी पावर रखता है। मानव शरीर को फिट और तनाव ग्रस्त रखने हेतू प्राचीन काल से ही कई ग्रथ और पुस्तकों में लिखा गया हे मूसली का प्रयोग जिससे जिंदगी को सही ढंग से जीने में मददगार होती हे

वजन काम करने हेतु उपयोगी 

व्यक्ति के शरीर के वजन को बढ़ता और मोटापा भी कई बड़ी बीमारियों की वजह बनती है। उन्ही समस्या को भी White Muesli पाक के उपयोग करने से कम करके दूर भी करसकते हैं। safed musli ke fayde दूसरी कई शारीरिक बीमारियों को दूर करने में फायदेमंद है और वहीं मूसली पावर दूसरी ओर कई समस्याओ में इसका प्रयोग वजन को कम करके मोटापा दूर करने हेतु उपयोग भी किया जाता है। एक वैज्ञानिक शोध के प्रमाण से इसमें पायेजाने वाले एंटीओबेसिटी तत्व के गुण जो शरीर के बढ़ते मोटापा एव बढ़ते वजन को कंट्रोल करने में बहोत ही फायदेमंद होताहै

सफ़ेद मुसली पाक की खेती

सफ़ेद मूसली के फायदे हिंदी में - Safed Musli Fayade In Hindi

हर क़िस्म की जमीन में उगाई और पैदा होने वाला safed musli का पाक का पौधा नम मौसम की चाह करता है जो न गर्म न बहुत ठंडा हो ऐसे मौसम में ही अच्छी होती हे।  इसके बोन के लिए स्याम रंग के नुकीले बीज का उपयोग होते हैं जो बोने से फसल उगाई जाती हैं. इसका फल एक दवाई की कैप्सूल होती हे ऐसा दिखता है।

सबसे अधिक काम की बात यह होती है की मूसली की जो जड़ होती है उनको ही मूसली कहा जाता है जो सफ़ेद होती हे कहा जाता हे की गोल , मोटी और रेशेदार वाली जड़ें 10 इंच तक जमीन में चली जाती हैं। White Muesli का इस्तेमाल सब तरह की आयुर्वेदिक दवाएं के उत्पादन में किया जाता हे भारतदेश में मूसली की खेती गुजरात , आँध्रप्रदेश और मध्य प्रदेश में होती है.

मूसली मधुप्रमेह 

safed musli को मधुप्रमेह की बीमारी से पीड़ित मरीजो को दर्द से लड़ने की शक्ति को बढ़ावा प्रदान करता हे और मानव के शरीर को प्रफुलित करता हे। इसका उपयोग करने से मनुस्य के शरीर में उर्जा और शक्ति का प्रसार करती हे और साथ ही रोग को खत्म करके रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बहुत ज्यादा बलबान बनती हे।

आयुर्वेदिक औषधि मूसली का प्रयोग और उपयोग मानव शरीर के वजन को बढ़ाने में भी अच्छा रहता हे और शरीर की दुर्बलता को शक्ति में परिवर्तित करती है। यह साथम,इ में उलटी के वक्त आती खट्टी डकार को दूर करने में भी Musli useful होता हे और पेट की चरबी को बेवजह ही बढ़ने से रोकता है।

और भी पढ़े : – Types of Yoga In Hindi

मूसली बांझपन और नपुंसकता में लाभ 

मूसली का मुख्य उपयोग नपुंसकता और बांझपन जैसी बीमारियों से बचाने के लिए भी सफेद मूसली पावर प्रमुख औषध मस्त काम कर सकती है। अगर कोई नपुंसक की समस्या से पीड़ित है तो उसको काफी हद तक अच्छा Benefits of pestle प्राप्त होता है। वैज्ञानिकों एक सर्वेक्षण में चूहों पर मूसली का नपुंसकता की प्रॉब्लम को दूर करने हेतु का दावा है

की और उन्होंने शोध में तय कियाथा की मूसली में मिलने वाले एंटीऑक्सीडेंट तत्व जो मनुष्य की प्रजनन शक्ति की क्षमता को पावरफुल करती हे और फायदेमंद रहती है। साथमें ही शुक्राणुओं जो बच्चे की प्राप्ति के लिए जितने चाहिए होते हे उस कमी को पूर्ण करके उसकी गुणवत्ता को दमदार और बेहतर कर देती हे। 

मूसली इम्युनिटी पावर बढाती है  

मूसली का पावर ऐसा हे की कोईभी व्यक्ति अक्सर बीमार रहता हे और जल्दी नहींहो पता हे और ठीक न हो ने की वजह से कमजोर सी महसूस होता है जो रोग प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ा ने को कहा जाता है। इस प्रॉब्लम दूर करने हेतु safed musli पाक का प्रयोग फायदेमंद रहता है।

इसको साबित करने के लिए डॉक्टरों ने तालाब की मछलियों के ऊपर प्रयोग करके एनसीबीआई की वेबसाइट पर लिखा था की safed musli का प्रयोग करने से मछलियों में रही रोग प्रतिरक्षा की ताकत बूस्ट होती नजर आईथी इसके बावजूद भी यह मानव शरीर में ऊर्जा का पावर का संचार करके फायदेमंद होता है।

इस शंशोधन शोध के लास्ट में ये भी लिखा गया है कि safed musli पाक कंपाउंड के होते इम्यून पावर को बूस्ट कर के शक्ति को बढाती हे है में मदद करत है। पुरुषो में पेशाब में जलन होने की समस्या होने पर safed musli पाक की जड़ को पत्थर पर पीसकर दूध के साथ इलायची को दूध में उबालकर पीने से बेहद फायदेमंद रहता है। एक दिन में दो वक्त ऐसे दूध को पीने से बहुत लाभदायक कहाजाता है ।

सफ़ेद मूसली पाक के फायदे 

Benefits of white musli pak – सफ़ेद मूसली पाक के फायदे प्राचीन समय से ही छोटे बच्‍चे के जन्‍म पर ही महिलाओं को अच्छा और ज्यादा खाद्य पदार्थ को खाने को कहा जाता हे Benefits of white musli एक ऐसी ही खाने लायक चीज़ बताई है जो स्त्रियों के शारीरिक स्‍वास्‍थ्‍य सुधर लाके वृद्धि करता हे यह चीज़ बहुत ही लाभकारी एव पौष्टिक होती है।

महिलाओ के मासिक धर्म के वक्त खुनकी कमी को दूर करती हे और रक्‍त स्राव से बचती हे जिस कारण स्त्रीओ को कमजोरी की शिकायत नहीं होती हैं। safed musli में पाए जाने वाले खनिज तत्व रक्‍त उत्‍पादन को बढ़ा के उत्‍तेजित करदेता है इस में जिंक की संपूर्ण मात्रा पाई जाती है जो रक्‍त की नशो को स्‍वस्‍थ्‍य रखने में मदद करता हे एव रक्‍त के प्रवाह को सही करदेता है।

जिस तरह से कौच के बीज ,अश्वगंधा शिलाजीत अस्वगंधा, का उपयोग दवाई बनाने हेतु किया जाते ऐसेही सफ़ेद मूसली का उपोयोग किया जाता हे। मूसली में ऐसे तत्व होते हैं जिसकी कमी से स्त्रियों को ऑस्टियोपोरोसिस और एनीमिया जैसी कजोरिया हो सकने की सम्भावना होती हैं। पर White Muesli ऐसी सभी बीमारियों को कम कर देती हे

और भी पढ़े : – Bawasir Khatm Karane Ke Upay  

मुसली के उपयोग कैसे करें

सफ़ेद मूसली के फायदे हिंदी में - Safed Musli Fayade In Hindi

safed musli को सभी लोग पानी या नॉर्मल दूध के साथ भी ले सकते है। अगर आप खाली पेट हे तो मूसली को खाने को मन किया जाता हे डोक्टर और वैद्य तजग्नो द्वारा इसका सेवन आप करना चाहते हैं तो डॉक्टर से जरूर लेनी चाहिए । White usage of musli आप खाना खाने के बाद 2 से 3 घंटे के बाद ही करें।

जिसकी मात्रा इस तरह रखे

  • बच्चो को एक बार में 1 ग्राम से अधिक न दें
  • बच्चों के लिए – 25 से 50 मिलिग्राम
  • 13 -19 वर्ष की आयु में- 1.5 से 2 ग्राम
  • 19 से 60 वर्ष की आयु में – 3 से 6 ग्राम
  • 60 वर्ष के ऊपर के व्यक्ति को – 2 से 3 ग्राम

मूसली के नुकसान

Loss of pestle बहुत ही असामान्य कहलाये जाते हे एव ठीक भी हो सकते हैं क्योकी कुछ ऐसे तकलीफे हैं जिस पर ध्यान में भी लेना बहुत ही जरूरी है। तकलीफ होने के तुरंत ही अपने डॉक्टर की सलाह जरूर।ले लेनी चाही ये safed musli का अधिक सेवन शरीर के लिए सही नहीं होता है।

मूसली में पायेजाने वाले फाइबरऔर खनिज तत्व पेट में नमी को गटा करके लेटिन मल को टाइट बनादेती है। जिस कारन इंसान दर्द , कब्ज और ऐंठन से आंतो में बाधा डालने का अनुभव करावा सकती हे। safed musli के सेवन से कई किस्सो में एलर्जी होने की बीमारी देखी गई हैं।

जिसमे यह बीमारी भी हो ने की शक्यता बताई गई हैं आँख की सूजन जी मिचलाना चक्कर आना,सिरदर्द,नाक का बेहना,बंद नाक का होना,चिड़चिड़ापन गले में खुजली,त्वचा पर खुजली और सांस लेने में कठिनाई होती है। 

और भी पढ़े : – Six Pack Kaise Banaye In Hindi 

Questions

1 . सफेद मूसली का दाम कितना है?

आज की कीमत करीब 1 लाख रूपए प्रति क्विंटल है।जिसकी बाजार मेंखेत मालिक से फसल से संबंधित जानकारी लेता अन्य किसान। और जानकारी के मने तो सफेद मूसली के औषधीय पौधा है। इसका उपयोग खांसी अस्थमा बवासीर चर्मरोग पीलिया आदि में किया जाता है।

2 . सफेद मूसली कितने प्रकार की होती है?
मूसली दो प्रकार की बतायी गयी है और आयुर्वेद के शास्त्रों में और एक सफेद मूसली और दूसरी काली मूसली।

3. सफेद मूसली का बीज कहाँ मिलेगा?
राजस्थान के राजसमन्द जिले में अरबिली के पहड़ियो के बिच स्थित काछबली गांव को यहां के किसानो में सफेद मूसली को खेती की लिए राष्ट्रीय मानचित पर उजागर करने को बीड़ा उठाया है।

Disclaimer

तो  फ़्रेन्ड उम्मीद करता हु की हमारा यह लेख सफ़ेद मूसली के फायदे हिंदी में आप को जरूर पसंद आया होगा तो दोस्त इसी तरह की जानकारी पाने के लिए हमरे साथ जुड़े रहिये और आपके मनमे कोई भी प्रश्न हो तो हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताये