मुनक्का क्या है । मुनक्का के फायदे | Munakka Ke Aur Upyog In Hindi

munakka In Hindi : मुनक्का का नाम सुनते ही जुबान पर एक अजीब सी मिठास आ जाती है। इसका स्वाद जितना ज्यादा अच्छा है। उससे कही ज्यादा मुनक्का के फ़ायदे हैं। मुनक्का को कुछ लोग किशमिश भी समझते हैं क्योंकि यह भी अंगूर को सूखा कर ही बनाया जाता है। लेकिन ऐसा बिलकुल नहीं है। “आयुर्वेद” की दृष्टि से सूखे अंगूरों के फायदे ज्यादा हैं। जबकि विज्ञान दोनों को एक नजरिए से देखता है।

कि किशमिश खाने के क्या फायदे हैं और ये किस तरह से किशमिश से अलग हैं। इसके अलावा हम आपको बताएंगे कि आप सूखे अंगूरों का सेवन कैसे कर सकते हैं। तो चलिए जानते हैं। मुनक्का से जुड़ी तमाम बातें। लेकिन इससे पहले आप यह जाने कि मुनक्का खाने के लाभ क्या है पहले यह जान ले कि मुनक्का और किशमिश किस तरह अलग हैं।

मुनक्का क्या है | What Is munakka

आपको पता ही होगा कि दोनों अंगूर से बनते हैं लेकिन अंगूर से बनने के बाद इनमें कुछ डिफ़्फेरन्स भी आ जाते है। जैसे कि किशमिश का आकार किशमिश से छोटा होता है और यह रंग किशमिश से कम गहरा होता है।किशमिश छोटे आकार के अंगूरों को सुखाकर बनाई जाती है।

जबकि सूखे अंगूर बड़े और पके अंगूरों को सुखाकर बनाए जाते हैं। किशमिश में बहुत कम बीज होते हैं। जबकि सूखे अंगूरों में 2 से 3 बड़े बीज होते हैं। सूखे अंगूरों में कोई खटास नहीं होती जबकि किशमिश थोड़ी खट्टी पाई जाती है जिससे एसिडिटी की समस्या हो सकती है।

अगर हम इन दो सूखे मेवों के नामों की बात करें तो किशमिश शब्द फ्रेंच शब्द लोनवर्ड से आया है जबकि किशमिश शब्द लैटिन शब्द रैसमस से आया है। तो अब जब आप जानते हैं। कि किशमिश और किशमिश में क्या अंतर है। तो आपको उनके बीच के अंतर के बारे में पता होना चाहिए।

आपको बता दें कि दोनों में थोड़ा सा अंतर होता है लेकिन दोनों से मिलने वाले पोषक तत्व लगभग एक जैसे ही होते हैं। दोनों में कई ऐसे तत्व होते हैं। जो शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। अगर आप अपनी सेहत को अच्छा रखना चाहते है। तो आपको अपनी जरुरत के हिसाब से इन ड्राई फ्रूट्स को अपने खाने में शामिल करना चाहिए।

मुनक्का के 5 फायदे | 5 Benefits Of munakka

  1. आंखों की रौशनी बढ़ाता है
  2. आंखों की रौशनी बढ़ाता है
  3. दांतों और मंसूड़ों के लिए फायदेमंद है
  4. कैंसर से बचाव
  5. सिरदर्द को दूर करने लिए

1. आंखों की रौशनी बढ़ाता है

मुनक्के में प्रचुर मात्रा में पॉलीफेनॉलिक नाम का फाइटोकेमिकल पाया जाता है जो आंखों की रोशनी के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। इसमें मौजूद अन्य एंटीऑक्सीडेंट और पोषक तत्व आंखों को रतौंधी ग्लूकोमा और मोतियाबिंद से बचाने में सहायक होते हैं।

2. वजन बढ़ाने में फायदेमद है

अगर आप अपने घटते वजन से परेशान हैं और बेहतर स्वास्थ्य के लिए वजन बढ़ाना चाहते हैं। तो किशमिश एक आहार पूरक है। इसमें भरपूर मात्रा में नेचुरल शुगर होती है जो वजन बढ़ाने में मदद करती है। पोषण विशेषज्ञ अपने ग्राहकों को रोजाना 5 से 7 सूखे अंगूर दूध के साथ खाने की सलाह देते हैं। आप इन्हें रोस्ट करके काले नमक के साथ भी खा सकते हैं।

3. दांतों और मंसूड़ों के लिए फायदेमंद है

munakka

डेंस्टिस्ट अक्सर मुनक्का खाने की सलाह देते हैं। रोजाना 5 से 7 सूखे अंगूर खाने से दांतों में कैविटी नहीं होती और दांत भी मजबूत और सुरक्षित रहते हैं। अंगूर में विभिन्न प्रकार के फोटोकेमिकल होते हैं। जो न केवल मौखिक बैक्टीरिया को मारते हैं। बल्कि दांतों पर एक प्रोटेक्शन लेयर भी बनाते हैं।

4. कैंसर से बचाव

इसमें कैटेचिन नाम का एंटीऑक्सीडेंट और कैपफेरोल नाम का फ्लेवेनॉइड पाया जाता है। जो कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकते हैं। कैंसर एक्सपर्ट्स के मुताबिक सभी को प्रतिदिन 5 भीगे हुए मुनक्के खाने चाहिए।

5. सिरदर्द को दूर करने लिए

मुनक्का सिरदर्द ठीक करने में भी कारगर है। 6 से 8 सूखे अंगूरों का चूर्ण बना लें 10 ग्राम एल्कोहल और 10 ग्राम मिश्री मिला लें। थकान और गैस के सिरदर्द से राहत पाने के लिए इस मिश्रण की एक चुटकी नाक में डालें। ये आपको कुछ ही देर में आराम दिलाएगी।

मुनक्का का इस्तेमाल कैसे करें | munakka ka istemaal kaise karen

1. मुनक्का कैप्सूल

आयुर्वेदिक कंपनियां मुनक्के की कैप्सूल भी बनाती हैं। आप इसे खाने के बाद ले सकते हैं। ये भोजन पचाने मददगार होती है।

2. रातभर भिगोकर

पेट के बेहतर स्वास्थ्य के लिए मुनक्के को रातभर पानी में भिगोकर फुलाया जाता है। सूखे अंगूरों को सुबह खाली पेट खाने से कब्ज और एसिडिटी की समस्या में आराम मिलता है।

3. मुनक्का काढ़ा

आयुष मंत्रालय ने कोरोना के खिलाफ इम्युनिटी बढ़ाने के लिए काढ़ा पीने की सलाह दी है।इस काढ़े में तुलसी के 4 पत्ते 2 दालचीनी के छिलके के 2 टुकड़े सोंठ के 2 टुकड़े 1 काली मिर्च और 4 सूखे अंगूर पानी में उबालें और इसे सुबह-शाम पीने की सलाह दी जाती है। ये पाचन तो बेहतर करता ही है। शरीर की इम्युनिटी भी बढ़ाता है।

मुनक्का के नुकसान | Loss of munakka

किसी भी चीज का जरूरत से ज्यादा सेवन करना नुकसानदेह हो सकता है। ऐसे में ज्यादा मुनक्का खाना भी आपको नुकसान पहुंचा सकता है इससे शरीर में कैलोरी की मात्रा बढ़ सकती है। अधिक सूखे अंगूर खाने से वजन बढ़ सकता है। दस्त उल्टी बुखार फैटी लीवर शुगर और हृदय संबंधित रोग होने का खतरा भी बढ़ा सकता है इसलिए ज्यादा मात्रा में खाने से बचना चाहिए।

मुनक्का के फायदे वीडियो | munakka ke fayde video

FAQ | Munakka

Q : मुनक्का को अंग्रेजी में क्या कहते हैं?

A : मुनक्का को इसकी पुनर्योजी क्षमता के कारण जीवन का वृक्ष कहा जाता है। इसका स्वाद मीठा होता है। और आमतौर पर इसका उपयोग सूखे फल के रूप में किया जाता है। ज्यादातर औषधीय प्रयोजनों के लिए।

Q : मुनक्का और किशमिश में क्या अंतर है?

A : दोनों के बीच प्राथमिक अंतरों में से एक आकार है। किशमिश बीज रहित और पीले हरे रंग के साथ छोटे होते हैं। दूसरी ओर मुनक्का बड़ा बीज के साथ भूरे रंग का होता है। भारतीय खाना पकाने में मुख्य रूप से किशमिश का उपयोग किया जाता है क्योंकि यह एक विशिष्ट तीखा होता है। जो इसे एक स्वादिष्ट बनाता है।

Q : मुनक्का के क्या फायदे हैं?

A : इसमें पोटेशियम होता है। जो रक्त वाहिकाओं में तनाव को कम करने में मदद करता है इसलिए उच्च रक्तचाप और उच्च रक्तचाप में बहुत प्रभावी माना जाता है।

Q : क्या मुनक्का और काली किशमिश एक ही है?

A : वास्तव में किशमिश पाचन में सहायता कर सकती है आयरन के स्तर को बढ़ा सकती है। और आपकी हड्डियों को मजबूत रख सकती है। न्यूटिफाई ब्लैक मुनक्का वसा रहित और कोलेस्ट्रॉल मुक्त एंटीऑक्सिडेंट में उच्च और फाइबर का एक उत्कृष्ट स्रोत है। काली किशमिश के फायदे काली किशमिश किशमिश आयरन का अच्छा स्रोत है।

Q : मुनक्का वजन घटाने के लिए अच्छा है?

A : हर दिन मुट्ठी भर मुनक्का खाने से आपका पेट भरा हुआ रख सकता है क्योंकि वे फाइबर का एक बड़ा स्रोत हैं। फाइबर से भरपूर आहार आपको लंबे समय तक भरा हुआ रखकर अधिक खाने से रोकता है।

Q : मुनक्का क्या टाइफाइड के लिए अच्छा है?

A : स्वामी रामदेव ने कहा कि यह घरेलू उपाय सदियों से चलन में है। इसके लिए 2-3 ग्राम बीज या चूर्ण, 5-7 मुनक्का और 3-5 अंजीर को 400 ग्राम पानी में डालकर गर्म करें। जब 100 ग्राम पानी रह जाए तो उसे अच्छे से मैश कर लें और पानी को छान लें।

Q : मुनक्का क्या आयरन से भरपूर है?

A : मुनक्का में विटामिन सी और विटामिन के जैसे विटामिन के प्रभावशाली पोषक तत्व हैं। और खनिज जैसे कैल्शियम आयरन कॉपर मैंगनीज मैग्नीशियम जिंक फॉस्फोरस और सेलेनियम ।

Disclaimer : munakka Aur Upyog इस का उपयोग करने से पहले डॉक्टर की सला ले इसके बाद इसका उपयोग करे तो फ़्रेन्ड उम्मीद करता हु की हमारा यह लेख munakka  Aur Upyog आप को जरूर पसंद आया होगा तो दोस्त इसी तरह की जानकारी पाने के लिए हमरे साथ जुड़े रहिये और आपके मनमे कोई भी प्रश्न हो तो हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताये।
 इसे भी पढ़े :  

Related Posts