कलौंजी क्या है | कलौंजी के फायदे | Kalonji Ke Fayde Aur Upyog In Hindi

0
189

Kalonji Ke Fayde In Hindi : कलौंजी एक प्रकार का बीज है जिसका पेड़ 12 इंच लंबा होता है। इसके फल के बीज कई व्यंजनों में एक स्वादिष्ट मसाले के रूप में उपयोग किया जाता है। यह पौधे मूल “रूप” से दक्षिण पश्चिम एशिया में पाए जाते हैं।

इसे kalonji plant और काले बीज के नाम से भी जाना जाता है। सदियों से इस काले बीज का सेवन इंडिया पाकिस्तान और बांग्लादेश के निवासी कर रहे हैं। कलौंजी एक बहुत ही अच्छी जीवन औषधि है और इसका प्रयोग 2000 वर्षो से दवाओं को बनाने में किया जा रहा है।

कलौंजी क्या है | what is kalonji

कलौंजी एक तरह का बीज होता है जो काले रंग का होता है। इसका पेड़ लगभग 12 इंच का होता है। मुख्य रूप से यह दक्षिण-पश्चिम एशिया में पाया जाता है और कई जगहों पर इसे काला बीज भी कहा जाता है और बिहार के क्षेत्रों में इसे मंगलाला भी कहा जाता है।

भारत के अलावा बांग्लादेश और पाकिस्तान में भी इसका सेवन किया जाता है। इसका उपयोग दवा में भी किया जाता है। रोजाना कम से कम दो ग्राम का सेवन करना चाहिए। इसे आप सब्ज़ी मे सलाद आटे पुलाव और अन्य कई खाद्य पदार्थ में कर सकते हैं। भारत में अचार बनाने में इसका ख़ूब उपयोग होता है।

कलौंजी के फायदे | Kalonji Ke Fayde

  1. बालों के लिए फायदेमद है
  2. कलौंजी के ख़ूबसूरती के के लिए
  3. कैंसर के लिए फायदेमद है
  4. मधुमेह में फायदेमद है
  5. लिवर और किडनी को स्वास्थ्य रखने में फायदेमद है
  6. सूजन से छुटकारा दिलाने के लिए
  7. महिलाओं के लिए कलौंजी के फायदे

1. कलौंजी के ख़ूबसूरती के के लिए

अगर आप मुंहासे या पिग्मेंटेशन जैसी परेशानी का सामना कर रहे हैं। तो कलौंजी के सेवन से आपको फायदा होगा। कलौंजी में एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं। इसके लिए कलौंजी के तेल में 2 चम्मच नींबू का रस मिलाकर सुबह-शाम लगाएं। इससे चेहरे के दाग-धब्बे भी ख़त्म हो जाते हैं।

कलौंजी चेहरे की टैनिंग हटाने में भी सहायक होता है। इसके लिए दो चम्मच सौंफ का पाउडर संतरे का रस पांच बूंद नींबू का तेल मिलाएं और फिर इसे चेहरे पर लगा कर दस मिनट तक रहने दें फिर चेहरा धोएं चेहरा निखर जायेगा।

2. बालों के लिए फायदेमद है | kalonji for hair

Kalonji Ke Fayde Aur Upyog In Hindi | कलौंजी क्या है | कलौंजी के फायदे

kalonji oil for hair फायदेमद माना जाता है। कि बालों को झड़ने से रोकने के लिए इसके तेल का इस्तेमाल रना चाहिए। कलौंजी में एंटी-आईडी ऑक्सीडेंट और एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं।

जो बालों को झड़ने से रोकते हैं और उन्हें मजबूत बनाते हैं। इसलिए रोजाना इसके तेल से सिर की मालिश करनी चाहिए और कलौंजी का पेस्ट बालों में लगाना चाहिए। कलौंजी के इस्तेमाल से बाल घने होते हैं। लंबे बालों के लिए भी इसका तेल हफ्ते में एक बार लगाना चाहिए। इस तेल में आप चाहें तो कपूर भी मिला कर लगा सकती हैं।

3. कैंसर के लिए फायदेमद है

आज के समय में मानव जीवन के लिए कैंसर सबसे बड़ी बीमारी बन चुकी है। कलौंजी के बीज ट्यूमर के विकास को रोकते और ब्रेस्ट कैंसर के ख़तरे को कम करते हैं। शुरुआती कैंसर को रोकने के लिए 1 चम्मच कलौंजी के तेल को एक गिलास अंगूर के रस में मिलाकर दिन में 3 बार लें।

4. मधुमेह में फायदेमद है

कलौंजी को सबसे महत्वपूर्ण मधुमेह को रोकने के लिए और स्वास्थ को ठीक करने के लिए माना जाता है। मधुमेह पीड़ित लोगों के लिए कलौंजी का तेल प्रभावशाली होता है। यह मधुमेह की रोकथाम में और उसे नियंत्रित करने के लिए फायदेमंद है।

5. लिवर और किडनी को स्वास्थ्य रखने में फायदेमद है

कलौंजी क्या है | कलौंजी के फायदे | Kalonji Ke Fayde Aur Upyog In Hindi

रिएक्टिव ऑक्सीजन स्पीशीज और ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कई समस्याओं के लिए जिम्मेदार माना जाता है जिनमें से एक जिगर की चोट है। सौंफ में थायमोक्विनोन और एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव की उपस्थिति पाई गई है। जिगर की चोट को रोकने के लिए थाइमोक्विनोन काम कर सकता है।

वहीं सौंफ के एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण लीवर को नुकसान से बचाने और बचाने का काम कर सकते हैं। इसके सुरक्षात्मक प्रभाव मुक्त कणों को खत्म करने में मदद कर सकते हैं। वे एंटीऑक्सिडेंट को भी बढ़ावा देते हैं।

जो अच्छे स्वास्थ्य के लिए आवश्यक हैं। वहीं kalonji गुर्दे की पथरी के आकार को कम करने में सकारात्मक प्रभाव दिखा सकती है। इसलिए कलौंजी को लीवर और किडनी के लिए फायदेमंद कहा जा सकता है। वहीं इसमें एंटी बैक्टीरीयल गुण भी मौजूद होते हैं जो बैक्टीरीयल संक्रमण से बचाव कर सकते हैं।

6. सूजन से छुटकारा दिलाने के लिए

सूजन कई चिकित्सा स्थितियों से संबंधित है। इसमें सिस्टिक फाइब्रोसिस रूमेटाइड अर्थराइटिस ऑस्टियोअर्थराइटिस अस्थमा एलर्जी और कैंसर शामिल है। सूजन तीव्र से पुरानी तक हो सकती है।

ऐसे में सौंफ के सेवन से सूजन की समस्या को कम किया जा सकता है। दरअसल इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। जो सूजन को कम करने में मददगार है। ऐसे में सौंफ के इस्तेमाल से सूजन से राहत मिल सकती है। सूजन को कम करने के लिए कलौंजी के kalonji oil ke fayde हो सकता है।

7. महिलाओं के लिए कलौंजी के फायदे

महिलाओं के लिए कलौंजी एक बेहतरीन चीज़ है। प्रसव के बाद इन्हें खीरे के रस के साथ लेने की सलाह दी जाती है। इससे कमजोरी दूर होती है। इतना ही नहीं महिलाओं को सफेद पानी पीरियड में दर्द या पीएमएस जैसी प्रॉब्लम है तब भी कलौंजी के पानी का सेवन करने से आराम मिलता है।

कलौंजी के गुण | Kalonji ke gun

Kalonji Ke Fayde Aur Upyog In Hindi | कलौंजी क्या है | कलौंजी के फायदे
.

कलौंजी सौफ जाती के पौधे का ही बीज है। इसमें भी सौफ के समान ही गुण पाए जाते हैं। कलौंजी के बीज काले रंग के होते हैं। इसे अचार और मसाले के रूप में डाला जाता है कलौजी में वायु विकार को नष्ट करने का गुण होता है।

कलौंजी वीर्यवर्धक और बल कारक होता है। कलौंजी एक शुक्राणु बूस्टर और बल कारक है। यह वायु को नष्ट करता है। गर्भाशय को शुद्ध करता है। और अतिसार को नष्ट करता है। इसमें मेदे की शक्ति देने अफारा दूर करने आंतों के कीड़ों को मारने का विशेष गुण होता है।

कलौंजी का उपयोग | use of kalonji

कलौंजी क्या है | कलौंजी के फायदे | Kalonji Ke Fayde Aur Upyog In Hindi

अगर आप kalonji के एक तरह के स्वाद से उब गए हैं तो आप इसे दूसरे तरीके से भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे कलौंजी न सिर्फ स्वादिष्ट लगेगी बल्कि स्वास्थ्य को भी फायदा होगा।

  • कलौंजी को सब्जी बनाते समय सीधे तौर पर और इसके पाउडर को मसाले के रूप में उपयोग कर सेवन किया जा सकता है।
  • इसे नमक के साथ खा सकते हैं।
  • कलौंजी को नान और रोटी के साथ मिलाकर खाया जा सकता है।
  • कलौंजी को पीसी में इस्तेमाल करके भी खाया जा सकता है।
  • इसे दाल में भी इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • कलौंजी को अचार में मिलाकर सेवन किया जा सकता है।

कलौंजी के नुकसान | kalonji ke nukasaan

विशेषज्ञों की राय है कि गर्भवती महिलाओं को इसके सेवन से बचना चाहिए क्योंकि अब तक इसके प्रमाण नहीं मिले हैं कि यह किस हद तक सुरक्षित है। इसलिए डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही इसका सेवन करें। यह भी पाया गया है कि सौंफ में थायमोक्विनोन पाए जाते हैं और इसकी मात्रा बढ़ जाने से कई बार ब्लड क्लॉट हो जाता है। ऐसे में सौंफ का सेवन नहीं करना चाहिए।

यदि कोई व्यक्ति बेल्ट से परेशान है। या फिर वह बहुत गर्मी बर्दाश्त नहीं कर पा रहा है तब भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए। इसके अलावा अगर पेट में बहुत जल्दी सूजन हो जाए तो भी इसका सेवन न करें। जिन महिलाओं को देर से पीरियड्स की समस्या होती है। उन्हें इसका सेवन नहीं करना चाहिए या फिर उन महिलाओं को भी नहीं उन्हें इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

कलौंजी का वीडियो | kalonji ke fayde Video

FAQ

Q : खाली पेट kalonji khane ke fayde क्या होता है?

A : कलौंजी के बीज में भरपूर मात्रा में फाइबर पाया जाता है। आहार में एक चम्मच सौंफ के बीज का प्रयोग करने से पोषक तत्वोंएक गिलास गुनगुने पानी में नींबू का रस मिलाएं। एक गिलास गुनगुने पानी में नींबू का रस मिलाएं।

Q : कलौंजी कैसे खाई जाती है?

A : शहद और पानी के साथ एक गिलास गुनगुने पानी में नींबू का रस मिलाएं।
1. भोजन में करें इस्तेमाल
2. कलौंजी पाउडर और शहद एक गिलास गुनगुने नींबू पानी में कलौंजी पाउडर और एक चम्मच शहद मिलाएं।
3. नींबू के साथ एक कटोरी में कलौंजी का बीज लें और इसमें नींबू का रस मिलाएं।

Q : कलौंजी का दूसरा नाम क्या है?

A : कलौंजी एक तरह का बीज है। इसे अंग्रेजी में Nigella Sativa कहते हैं।

Q : क्या प्याज का बीज ही कलौंजी है?

A : कलौंजी भारतीय किचन का एक अहम मसाला है जिसे प्याज के बीज के रूप में भी जाना जाता है। हालांकि इसका प्याज से कोई लेना-देना नहीं है। इसका उपयोग विभिन्न व्यंजनों जैसे बीन्स सब्जियां नान ब्रेड केक और अचार में स्वाद और आचार आदि में फ्लेवर और टेस्‍ट का मजा लेने के लिए किया जाता है।

Q : कलौंजी के तेल का सेवन कैसे करें?

A : लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी की अगर आप कलौंजी के तेल मिलाकर अपनी त्वचा पर लगाएंगे तो आपको पिंपल्स से छुटकारा मिल जाएगा। कलौंजी का तेल दिल की समस्याओं में भी बहुत फायदेमंद होता है आपको कलौंजी के तेल को गर्म पानी या चाय में डालकर पीने से हार्ट हेल्दी रहता है और आपका स्वास्थ भी अच्छा रहता है।

Q : कलौंजी की तासीर क्या है?

A : आयुर्वेदाचार्य डॉ चंद्रमोहन पांडेय कहते हैं। कलौंजी का प्रभाव गर्म होता है इसलिए सर्दियों में इसका सेवन फायदेमंद होता है। इसके अलावा पेट दर्द को कम करने के लिए कलौंजी का सेवन बहुत फायदेमंद होता है।

Disclaimer: kalonji ke fayde Aur Upyog इस का उपयोग करने से पहले डॉक्टर की सला ले इसके बाद इसका उपयोग करे तो फ़्रेन्ड उम्मीद करता हु की हमारा यह लेख kalonji ke fayde Aur Upyog आप को जरूर पसंद आया होगा तो दोस्त इसी तरह की जानकारी पाने के लिए हमरे साथ जुड़े रहिये और आपके मनमे कोई भी प्रश्न हो तो हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताये। 
इसे भी पढ़े :