चकोतरा फल क्या है | चकोतरा के फायदे उपयोग | Chakotra Khane Ke Fayade

chakotra का आकर निम्बू और संतरे जैसा दिखने को मिलता है। वह औषधीय गुणों से भरपूर होता है। कहा जाता है की चकोतरा का सेवन करने से स्वास्थ्य से जुड़ी कई बीमारियों पर सकारात्मक प्रभाव दिखा सकता है। grape fruit का सामान्य नाम पोमेलो है। उसका वानस्पतिक नाम साइट्रस मैक्सिमा नाम से पहेचाना जाता है।

chakotra की खेती स्टॉक में ज्यादा होती है। चकोतरा पूर्व एशिया का एक खट्टे फल है। उसका वजन 1-2 किलोग्राम होता है। भारत, पाकिस्तान और अफगानिस्तान में पोमेलोस को चककोटरा के नाम से पहेचाना जाता है। 

चकोतरा फल क्या है | What is grapefruit

chakotra एक सिट्रस फल है जो संतरे के जैसा आकर धरावता है लेकिन चकोतरा संतरे के आकर से बड़ा होता है।चकोतरा की मिठास खट्ट – मीठी होती है। चकोतरा का अंग्रेजी में उसे ग्रेपफ्रूट नाम से पहेचान जाता है। चकोतरा स्वाद के साथ-साथ यह औषधीय गुणों का भी खजाना कहे लाता है।

चकोतरा पोषक तत्वों से बहोत अस्चा होता है। चकोतरा में विटामिन सी , विटामिन बी , विटामिन  ए , विटामिन इ ,आयरन, फाइबर, पोटेशियम मौजूद होते है। वह शरीर के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। grapefruit in hindi जानकारी बतायेगे।

चकोतरा के 7 फायदे | 7 benefits of grapefruit

  1. मधुमेह के लिए
  2. कैंसर के जोखिम को कम करने के लिए
  3. ब्लड प्रेशर के लिए
  4. त्वचा के लिए
  5. पाचन में मददगार
  6. गठिया का उपचार
  7. घाव को तुरंत भरे

1. मधुमेह के लिए

जिस लोगोको डायबिटीज की समस्या हो वह लोगो को chakotra का सेवन करना चाहिये। जिस लोगों ने भोजन से पहले चकोतरा का सेवन किया। उनमें ग्लूकोज इंसुलिन के स्तर और इंसुलिन प्रतिरोध में कमी पायी गई। जिस से कहा जाता है। की मधुमेह मरीजों को इस grape fruit का सेवन करना अस्च्या होता है। चकोतरा एक लोग्लाइसेमिक इंडेक्स फल होता है। कहा जाता है कि सेवन कितनी जल्दी ब्लड शुगर कोज्यादा या कम सकता है।

जो किसी लोग के भोजन में ग्लाइसेमिक इंडेक्स बहोत है। तो ब्लड शुगर की मात्रा ज्यादा कर सकता है। chakotar को लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स फल कहते है। चकोतरा का सेवन करने से ब्लड शुगर की मात्रा कंट्रोल करा सकता है। जिस लोगो को डायबिटीज की बीमारी है। वह लोगो उसका सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह सलाह जरूर ले।

2. कैंसर के जोखिम को कम करने के लिए

जिस लोगो को कैंसर जैसी बीमारी है वह लोगो को चकोतरा का सेवन करना उसके लिए बहोत फायदेमंद होता है। और  कैंसर जैसी बीमारियों का खतरा नहीं रहता है। chakotra में एपिजेनिन नाम नो फ्लेवोनोइड मौजूद होता है। चकोतरा में एंटी इंफ्लेमेटरी और फ्री रेडिकल को खत्म में फायदेमंद होता है।

बल्कि इतना ही नहीं वह एंटी कैंसर एजेंट के रूप में काम करके सामान्य कोशिकाओं को नुकसान किए बिना कैंसर सेल्स के प्रसार को कम करने में फायदेमंद होता है। नरिंगीन और नरिंगेनीन नाम नो फ्लेवोनोन्स भी इसमें होता है। नरिंगीन और नरिंगेनीन दोनों कैंसर को बढ़ने से रोकने वाला गुण पाए गए हैं। chakotar फल का सेवन करने से पेट की समस्या वाले कैंसर से बचाव कर सकता है। 

3. ब्लड प्रेशर के लिए

ब्लड प्रेशर की बीमारी दिल की बीमारी है। इतनाही नई उसके साथ हार्ट अटैक का भी भय हो सकता है। जिसे लोगो को ऐसी बीमारी है वह लोगो खानपान का ख्याल रखे की रक्तचाप को नियंत्रण कैसे किया जाता है। grape fruit का सेवन करने से उच्च रक्तचाप को नियंत्रण किया जा सकता है। chakotra फल का सेवन करने से ब्लड प्रेशर को कम करने में फायदेमंद होता है। इत नाही नहीं कोलेस्ट्रॉल को भी कम करता है। 

4. त्वचा के लिए

chakotara फल के फायदे सेहत के लिए नहीं बल्कि त्वचा के लिए भी फायदेमंद होता है। महिलाओं पे शोध किया गया है की उसमे फोटोऐजिंग के लक्षण देखने को मिलता है। महिलाओं को चकोतरा फल और रोजमेरी से बना पाउडर मिश्रण का सेवन कराया गया था। वह शोध को ने किया की रोजमेरी और चकोतरा से बना पाउडर मिश्रण न सिर्फ सूरज की नुकसान कारक किरणों से त्वचा का बचाव कर सकता है। इतनाही नहीं बल्कि त्वचा की झुर्रियों को भी कम कर सकता है।

5. पाचन में मददगार

अगर कोई लोगो को पाचन क्रिय में ताफलीफ है वह लोगो को वह समस्या को दूर करने के लिए। ग्रेपफूट बहोत  फायदेमंद होता है। वह दूसरे से हल्का खोराक होता है। उसी वजसे शरीर में रहने वाली जलन और गर्मी को ठिक करके सरर तसे पाचन होता है। उस वजसे पाचन किया में सुधार हो सकता है। जो अतो के कार्यो को आसान बनाते है। 

6. गठिया का उपचार

chakotara में सैलीसिलीक ऐसिड मौजूद होता है। वो शरीर के कैल्शियम  को तोड़ने में सहाय करता है। वह जोड़ो को कठिन करने में मदद होता है। जिसे गठिया हो सकती है। बहोत अस्या परिणा के लिए सेब और चकोतरा को पीसके उसका पीजिये। 

7. घाव को तुरंत भरे

chakotara में 72 एमजी विटामिन C ,पाया जाता है। विटामिन C ,की मदद से सर्जरी के समय के बाद घाव को भरने में सहाय मिलती है । जिस लोगो की सर्जरी होते वाली है उन लोगो को डॉक्टर से जानकारी पके इसका सेवन कर सकते है।

इसे भी पढ़े -: चौलाई के फायदे, उपयोग और नुकशान

 चकोतरा की पौष्टिक सामग्री | Nutritious ingredients of chakotra

एनर्जी

 32 पीएसीएल

प्रोटीन

0.63 ग्राम

कार्बोहाइड्रेट

8.08 ग्राम

शुगर

6.98 ग्राम

कैल्शियम

12 मिलीग्राम

आयरन

0.09 मिलीग्राम

मैग्नीशियम

8 मिलीग्राम

पोटेशियम

139 मिलीग्राम

विटामिन सी

34.4 मिलीग्राम

चकोतरा का उपयोग | Grapefruit use

  • चकोतरा फल का सेवन आसानीसे किया जा सकता है। 
  • चकोतरा फल को पिसा के उसका जूस का सेवन किया जा सकता है। 
  • चकोतरा फल को सलात तरीके भी उसका उपयोग किया जा सकता है। 
  • chakotra fruit को इसका उपयोग स्क्रब या फेसपैक की तरह त्वचा पर लगाया जा सकता है। 
  • चकोतरा फल को पिस के उसका जूस चेहरे पर लगाया जा सकता है। 
  • चकोतरा फल का उपयोग बालो के लिए भी किया जा सकता है। 
  • chakotra fruit का सेवन करना जिस लोगो चाहते है वह लोगो उनकी उम्र के साथ उसका सेवन कीजिये। 

इसे भी पढ़े  : कमल ककड़ी खाने के फायदे

चकोतरा के नुकसान | Grapefruit loss

chakotra सेवन करने से पहले कुछ सावधानियां रखना पटेगी क्युकी उसका ज्यादा सेवन करने से आप को कई सारे नुकसान नो से सामना करना पड़ता है। जो कोई यक्ति ब्लड प्रेशर या कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए दवाका उपयोग करते है तो वह लोगो उसका उपयोग करने से पहले डॉक्टरी करके चकोतरा का सेवन कीजिये। चकोतरा का सेवन करते के दौरान दवाइयों का सेवन कारन शरीर के लिए नुकसान हो सकता है। chakotra एक सिट्रस फल है।

जिसे लोगो का दांत संवेदनशील है। उन लोगो को चकोतरा का सेवन करना नहीं चाहिये। chakotra को खाने से दांतों में झनझनाहट नुकसान हो सकता है। chakotra का सेवन सही या सिमित मात्रा मे करना चाहिए। तोहि चकोतरा का सेवन करने से फायदे हो सकते है। grape fruit का सेवन उसके नुकसान को ख्याल में रखकर किया जाये। स्वस्थ खाएं और स्वस्थ रहें।

जिसे मरीजों एलजी की दवा का उपयोग करता है उन लोगो को चकोतरा का सेवन नहीं करना चाहिए। Grapefruits में एक प्राकृतिक रसायन furanocoumarin मौजूद होता है। वह एलर्जी की दवा के यक्ति की लिवर को नुकसान पहोचता है। इस प्रकार की दवा में वियाग्रा , कैलिस, और लेविट्रा मौजूद होते है। जो आप को कोई बीमारी है वह कारन आप चकोतरा का सेवन करते है तो आप को चकोतरा का रस नुकसान कारक है। उसको खाने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लीजिये। 

इसे भी पढ़े -: शलजम के फायदे और औषधीय गुण

चकोटारा वीडियो के फायदे | Benefits of chakotara Video

FAQ

Q :चकोतरा को अंग्रेजी में क्या कहा जाता है?

A : चकोतरा को अंग्रेजी में पोमेलो, चीनी अंगूर कहा जाता है?

Q : चकोतरा फल कैसे खाते हैं?

A : चकोतरा फल को मोटी छिलका निकालें और प्रत्येक खंड के चारों ओर से झिल्ली को छील लें।

Q : पोमेलो के क्या लाभ हैं?

A : फाइबर से भरा हुआ। एक पोमेलो में 6 ग्राम फाइबर मौजूद होता है। वजन को बढ़ाने के लिए फायदेमंद होता है। हृदय के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। इसमें एंटी-एजिंग गुण मौजूद होते है। कैंसर कोशिकाओं को लड़ने का समता धरावते है। 

Disclaimer : Chakotra Khane Ke Fayde aur Upyog  इस का उपयोग करने से पहले डॉक्टर की सला ले इसके बाद इसका उपयोग करे तो फ़्रेन्ड उम्मीद करता हु की हमारा यह लेख Chakotra Khane Ke Fayade आप को जरूर पसंद आया होगा तो दोस्त इसी तरह की जानकारी पाने के लिए हमरे साथ जुड़े रहिये और आपके मनमे कोई भी प्रश्न हो तो हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताये।

इसे भी पढे : सिंघाड़ा खाने के फायदे और उपयोग

Default image
Khemaraj__009
Hello दोस्तों मैं इस ब्लॉग का Founder और Writer हूँ। मेरी वेबसाइट के जरिये से आपको और आपके परिवार के लिए Health Tips के बारे में और उनसे जुडी कुछ टिप्स आपको को हम हिंदी भाषा में देते है।
Articles: 292